Rain Warnings: 8 जिलों में Red Alert, भारी बारिश की संभावना

Rain Warnings, Red Alert in 8 districts, heavy rain likely

मौसम केंद्र (Meteorological Center) ने कहा है कि राज्य के 8 जिलों में भारी बारिश (Heavy Rain) की संभावना है. केंद्रीय मौसम विभाग ने आज पठानमथिट्टा, अलाप्पुझा, कोट्टायम, इडुक्की, एर्नाकुलम, त्रिशूर, पलक्कड़ और कन्नूर जिलों में रेड अलर्ट जारी किया है। छिटपुट स्थानों पर बहुत भारी बारिश (Heavy Rain) की संभावना जताई गई है। कोल्लम, मलप्पुरम, कोझीकोड, वायनाड और कासरगोड जिलों में ऑरेंज अलर्ट घोषित किया गया है।

बारिश (Rain) के जारी रहने का कारण केरल के ऊपर एक वायुमंडलीय परिसंचरण और बंगाल की मध्य खाड़ी के ऊपर एक चक्रवाती परिसंचरण की उपस्थिति है। हालांकि भारी बारिश (Heavy Rain) की कोई चेतावनी नहीं है, लेकिन पहाड़ी इलाकों में अत्यधिक सावधानी बरती जानी चाहिए। पिछले कुछ दिनों से लगातार बारिश वाले क्षेत्रों में भूस्खलन और भूस्खलन की संभावना अधिक है। तेज लहरों और तेज हवाओं के कारण मछुआरों को समुद्र से बाहर नहीं निकलना चाहिए।

यह भी पढ़े: अभिनेता मिथिलेश चतुर्वेदी (Mithilesh Chaturvedi) का निधन

इस बीच राज्य में मरने वालों की संख्या 21 पहुंच गई है। कासरगोड नदी में मिला सेवानिवृत्त शिक्षक का शव चावक्कड़ में पिछले दिन लापता हुए दो मछुआरों में से एक का शव वलप्पड़ के तट पर मिला था।

इन जिलों में भारी बारिश (Heavy Rain) की सम्भावना

केंद्रीय मौसम विभाग ने 5 तारीख को इडुक्की, कोझीकोड, वायनाड, कन्नूर और कासरगोड जिलों में ऑरेंज अलर्ट की घोषणा की। छिटपुट स्थानों पर भारी बारिश (Heavy Rain) की संभावना है। पठानमथिट्टा, अलाप्पुझा, कोट्टायम, एर्नाकुलम, त्रिशूर, पलक्कड़ और मलप्पुरम जिले येलो अलर्ट पर रहेंगे। 6 तारीख को इडुक्की, कोझीकोड, कन्नूर और कासरगोड जिलों में, 7 तारीख को इडुक्की, कोझीकोड, कन्नूर और कासरगोड जिलों में और 8 तारीख को कोट्टायम, एर्नाकुलम, इडुक्की, कोझीकोड, कन्नूर और कासरगोड में भी येलो अलर्ट घोषित किया गया था।

यह भी पढ़े: अभिनेत्री Nichelle Nichols, ‘Star Trek’ Trail-Blazing Uhura, का निधन

केंद्रीय मौसम विभाग ने कुछ जिलों में येलो अलर्ट जारी किया है, लेकिन पहाड़ी इलाकों में अलग-अलग जगहों पर गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना को देखते हुए पिछले कुछ दिनों में जिन पहाड़ी इलाकों में भारी बारिश (Heavy Rain) हुई है, उन्हें भी ऑरेंज अलर्ट की तरह ही अलर्ट किया जा सकता है. पिछले कुछ दिनों में जिन इलाकों में भारी बारिश (Heavy Rain) हुई है, वहां लगातार बारिश हो रही है, निचले इलाकों, नदी किनारे और पहाड़ी इलाकों में भूस्खलन का खतरा बना हुआ है।ऐसे स्थानों पर लोगों को बहुत सावधान रहना चाहिए।


(नवीनतम पोस्ट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें, साथ ही हमें ट्विटर पर फॉलो करें।)


Share This